Cancer /  कैंसर

होम्योपैथिक दवा कैंसर के लिए बहुत अच्छी होती है। यह सीधे कैंसर की cells पर असर करती है। यह कैंसर को आगे बढ़ने से रोकती है। कैंसर तब होता है, जब शरीर की कुछ कोशिकाएं असामान्य अवस्था में आकर निरंकुश संख्था-वृद्धि करने लगती हैं।ये ट्यूमर कोशिकाएं आस-पास के अंगों में फैलकर वहां बढ़ने लगती हैं तथा दबाव और अन्य अंगों के कार्य में व्यवधान डालती हैं। ये ट्यूमर सेल्स जब रक्त की नलिकाओं में प्रविष्ट हो जाती हैं, तो इनका बिखराव रक्त प्रवाह के साथ फेफड़ों, यकृत, हड्डियों, मस्तिष्क इत्यादि तक पहुंचता है। 

होम्योपथी से कैंसर को काफी हद तक ठीक किया जा सकता है। यदि कैंसर जल्दी डायग्नोसिस हो जाए तो पूरी तरह से ठीक किया जा सकता है। यह एक सस्ता और बिना किसी तकलीफ के रोग को ठीक करने वाला उपचार होता है।

एलोपैथी से बिल्कुल अलग, प्रभावी और सस्ता इलाज होने के कारण कैंसर के मरीज तेजी से होम्योपैथी की तरफ बढ़ रहे हैं। इसमें न उन्हें कीमोथैरेपी/ रेडियोथैरेपी का दर्द सहना पड़ता है और न ही महंगी दवाइयां लेनी पड़ती हैं।

होम्योपैथी में कैंसर की कई दवाइयां हैं, जो मरीज के लक्षणों, रिपोर्ट्स और बीमारी की स्टेज पर तय होती हैं। होम्योपैथी दवाइयों से सूजन, दर्द और जलन भी तेजी से कम किया जा सकता है।आमतौर पर होम्योपैथी डॉक्टर के पास मरीज तब पहुंचता है जब कई बार रेडियोथैरेपी, कीमोथैरेपी और ऑपरेशन करा चुका होता है, फिर भी उसे कोई फायदा नहीं होता। लेकिन जो मरीज ऑपरेशन नहीं कराना चाहते, उनके लिए भी होम्योपैथी जीने की राह को आसान बना देता है।

https://ssl.gstatic.com/ui/v1/icons/mail/images/cleardot.gif*कैंसर के लिए होम्योपैथी उपचार

 होम्योपैथी उपचार सुरक्षित हैं और कुछ विश्वसनीय शोधों के अनुसार कैंसर और उसके दुष्प्रभावों के इलाज के लिए होम्योपैथी उपचार असरदायक हैं। यह उपचार आपको आराम दिलाने में मदद करता है और तनाव, अवसाद, बैचेनी का सामना करने में आपकी मदद करता है। यह अन्य लक्षणों और उल्टी, मुंह के छाले, बालों का झड़ना, अवसाद और कमज़ोरी जैसे दुष्प्रभावों को घटाता है। ये औषधियां दर्द को कम करती हैं, उत्साह बढा़ती हैं और तन्दुरस्ती का बोध कराती हैं, कैंसर के प्रसार को नियंत्रित करती हैं, और प्रतिरोधक क्षमता को बढाती हैं। कैंसर के रोग के लिए एलोपैथी उपचार के उपयोग के साथ–साथ होम्योपैथी चिकित्सा का भी एक पूरक चिकित्सा के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं। सिर्फ़ होम्योपैथी दवाईयां या एलोपैथी उपचार के साथ साथ होम्योपैथी दवाईयां ब्रेन ट्यूमर, अनेक प्रकार के कैंसर जैसे के गाल, जीभ, भोजन नली, पाचक ग्रन्थि, मलाशय, अंडाशय, गर्भाशय; मूत्राशय, ब्रेस्ट और प्रोस्टेट ग्रंथि के कैन्सर के उपचार में उपयोगी पाई गई हैं।
होम्योपैथी औषधियां सुरक्षित मानी जाती हैं। कभी –कभी आपके लक्षण नियंत्रित होने से पहले थोडा़ और अधिक बिगड़ भी सकते हैं। हाल ही में किए  गए शोध के अनुसार किसी प्रशिक्षित होमियोपैथिक चिकित्सक की देखरेख में ली गई होम्योपैथी औषधियां सुरक्षित थी और कम दुष्प्रभाव दिखाई दिए।

“Accurately Diagnosed and treated by a very experienced and renowned homoeopath in Kanpur. 

Homeopathy at its Best for You swaroop nagar,gumti 9839114138"

 


Comments

No comment added yet, comment Now

Leave a comment